किसी स्थान का चुम्बकीय दिक्पात (Magnetic declination या variation), उस स्थान पर स्थित क्षैतिज समतल पर चुम्बकीय उत्तरी ध्रुव तथा भौगोलिक उत्तरी ध्रुव के बीच के कोण को कहते हैं। किसी स्थान का चुम्बकीय उत्तरी ध्रुव वह दिशा है जिस दिशा में उस स्थान पर रखी चुम्बकीय सूई का उत्तरी सिरा स्थित होता है। अर्थात उस स्थान पर धरती का चुम्बकीय क्षेत्र इसी दिशा में (चुम्बकीय उत्तर में) होता है। इसी प्रकार, किसी स्थान पर भौगोलिक उत्तर दिशा उस स्थान पर उत्तरी ध्रुव को मिलाने वाली देशान्तर रेखा की दिशा में होता है।

चित्र में किसी स्थान का दिक्पात कोण दिखाया गया है। यह उस स्थान पर उन दो रेखाओं के बीच के कोण के बराबर है।

पृथ्वी के प्रत्येक स्थान पर दिक्पात कोण अलग-अलग होता है। यह समय के साथ भी बदलता है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें