मुख्य मेनू खोलें

ठाकुर युगल किशोर सिंह (1908–1983) एक भारतीय राजनीतिज्ञ, स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी व सहकारिता क्रांति के जनक थे। वे बिहार में मुजफ्फरपुर उत्तर पश्चिम संसदीय निर्वाचन क्षेत्र (वर्तमान में शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र) से पहली लोकसभा के सदस्य चुने गए थे।[1] उन्होने महात्मा गांधी की अगुआई में भारतीय स्वतन्त्रता आंदोलन में भाग लिया। वे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के एक प्रखर कार्यकर्ता रहे हैं। केरल की पूर्व राज्यपाल राम दुलारी सिन्हा उनकी पत्नी थीं। उनके नाम पर उनके पुत्र मधुरेन्द्र कुमार सिंह के द्वारा सीतामढ़ी में 'ठाकुर युगल किशोर सिंह महाविद्यालय' की स्थापना की गई है।

ठाकुर युगल किशोर सिंह

सदस्य: प्रथम लोकसभा (1952)

जन्म 1908
मृत्यु 1980
पटना
जीवन संगी राम दुलारी सिन्हा
बच्चे मधुरेन्द्र कुमार सिंह
धर्म हिन्दू
बिहार में मुजफ्फरपुर उत्तर पश्चिम संसदीय निर्वाचन क्षेत्र (वर्तमान शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र) से पहली लोकसभा के सदस्य एवं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी।

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें