मुख्य मेनू खोलें

डिओगु केउ एक पुर्तगाली अन्वेषक था जिसने पंद्रहवीं शताब्दी में अफ्रीका के पश्चिमी तट की दो महत्वपूर्ण यात्राएँ की। पहली यात्रा में वो कांगो (1482) और दूसरी में नामीबिया (1485-86) तक पहुँचा। द्वितीय नौयात्रा के समय कांगों के अंदरुनी भाग में उसने एक स्तंभ स्थापित किया जिसके बाद उसका कोई पता नहीं चला।