डेनटिनोजेनेसिस इम्पर्फेक्टा

डेनटिनोजेनेसिस इम्पर्फेक्टा दांतों से जुडा एक अनुवांशिक रोग है जो की औटोसोमल प्रमुख स्थिति की वजह से होता है और पक्के और काछे दोनों ही दांतों में पाया जा सकता है| प्रभावित दांतों का रंग हल्का पिला और भूरा होता है|इस असामान्यता में दांतों का उपरी हिस्सा बहुत ही बड़ा होता है और उनका बीच का हिस्सा कस्सा हुआ होता है|इन दांतों में रूट कैनाल नही होती और न ही पल्प कक्ष होता है|[1]

डेनटिनोजेनेसिस इम्पर्फेक्टा

डेनटिनोजेनेसिस इम्पर्फेक्टा से प्रभावित दंत बहुत ही जल्दी नष्ट हो जाते है|डेनटिनोजेनेसिस इम्पर्फेक्टा ३ प्रकार के होते है:

  1. टाइप १: ओसटियोंजेनेसिस इम्पर्फेक्टा के साथ पाए जाने वाले डेनटिनोजेनेसिस इम्पर्फेक्टा
  2. टाइप २: डेनटिनोजेनेसिस इम्पर्फेक्टा जिसमे ओसटियोंजेनेसिस इम्पर्फेक्टा नही पाया जाता
  3. टाइप ३: डेनटिनोजेनेसिस इम्पर्फेक्टा

इलाजसंपादित करें

एस्थेटिक उपस्थिति के लिए प्रभीवित दांतों के यपर वाले हिस्से को ढका जाता है ताकि दांतों के बीच संघर्षण न हो पाए|[2]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Jump up ^ Ten Cate's Oral Histology, Nanci, Elsevier, 2013, page 15
  2. Illustrated Dental Embryology, Histology, and Anatomy, Bath-Balogh and Fehrenbach, Elsevier, 2011, page 64