ताइपिंग विद्रोह

चीन के किंग वंश में विद्रोह

ताइपिंग विद्रोह (Taiping Rebellion) दक्षिणी चीन में चला एक भयानक गृहयुद्ध ताइपिंग विद्रोह हांग जिकुआंग के नेतृत्व में १८५० ईस्वी. में संपन्न हुआ। इसमें हजारों मेहनतकश गरीब लोगों ने परम शांति के स्वर्गिक साम्राज्य की स्थापना के लिए लड़ाई लड़ी। हांग ज़िकुआंग ने धर्मांतरण करके ईसाई धर्म अपना लिया था। और वह परंपरागत चीनी धर्मों के खिलाफ थे। वह एक ऐसे साम्राज्य की कल्पना कर रहे थे। जहां पर किसी के पास निजी संपत्ति नहीं होगी। तथा सामाजिक वर्गों एवं स्त्री पुरुषों के मध्य कोई भेदभाव नहीं होगा। और अफीम तंबाकू शराब के सेवन तथा जुएं और वेश्यावृत्ति एवं गुलामी पर पाबंदी होगी। चीन में तैनात अंग्रेज और फ्रांसीसी सेनाओं ने ताइपिंग विद्रोह को दबाने के लिए किंग (QING) साम्राज्य के बादशाह को काफी मदद की। तथा इस विद्रोह को १८६० ईस्वी. में कुचल दिया गया।