ताइवान की स्वतंत्रता का आन्दोलन

"चीन" से स्वतंत्र एक राज्य पाने के लिए ताइवान में राजनीतिक आंदोलन

ताइवान की स्वतंत्रता का आन्दोलन एक राजनैतिक एवं सामाजिक आन्दोलन है जो ताइवान को उसकी 'ताइवानी राष्ट्रीय पहचान' के आधार पर एक स्वतन्त्र एवं सम्प्रभु देश के रूप में मान्यता दिलाना चाहता है। वर्तमान समय में ताइवान का राजनैतिक संस्थिति (status) अत्यन्त संदिग्ध है।

चीन और ताइवान के बीच दो अलग-अलग प्रकार की राजनीतिक व्यवस्थाएँ हैं। इसी कारण दोनों में सत्तर साल पहले हुए अलगाव को एकजुटता में बदलना मुश्किल रहा है। ताइवान उदार लोकतन्त्र की हामी भरता है और चीन एकल-पार्टी प्रणाली वाला देश है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें