तिक्त का अर्थ "कड़वा"

उदाहरणसंपादित करें

समतल देशों से आ-आकर पावस की उमस से आकुल तिक्त-मधुर बिसतंतु खोजते हंसो को तिरते देखा है बादल को घिरते देखा है।

       यहाँ तिक्त का सटीक अर्थ "कड़वा " होगा।

तिक्त का एक अर्थ "मिर्च के स्वाद जैसा" भी होता है। तिक्ता का अर्थ नीम का पेड़ होता है।

मूलसंपादित करें

तिक्त शब्द का प्रयोग हिंदी और मैथिली के प्रमुख लेखक व कवि आदरणीय नागार्जुन जी की रचना "बादल को घिरते देखा है" नामक कविता में हुआ है।

अन्य अर्थसंपादित करें

संबंधित शब्दसंपादित करें

हिंदी मेंसंपादित करें

अन्य भारतीय भाषाओं में निकटतम शब्दसंपादित करें