मुख्य मेनू खोलें

तिगवा मध्य प्रदेश के कटनी जिले का एक गाँव है जहाँ एक प्राचीन पुरातात्विक स्थल है जिसमें ३६ हिन्दू मन्दिरों के भग्नावशेष विद्यमान हैं।[4] इनमें से प्राचीन कंकाली देवी मन्दिर अभी भी अच्ची दशा में है।[5] यह मन्दिर लगभग 400-425 ई का है।[2][3]

तिगवा मन्दिर
५वीं शताब्दी का कंकाली-देवी मन्दिर
धर्म संबंधी जानकारी
सम्बद्धताहिन्दू धर्म
डिस्ट्रिक्टकटनी जिला[1]
देवताविष्णु, शक्ति (चामुण्डा), एवं अन्य देवता
अवस्थिति जानकारी
अवस्थितितिगवां, बहोरीबन्द
राज्यमध्य प्रदेश
देशभारत
तिगवा की भारत के मानचित्र पर अवस्थिति
तिगवा
भारत के मानचित्र पर अवस्थिति
तिगवा की मध्य प्रदेश के मानचित्र पर अवस्थिति
तिगवा
तिगवा (मध्य प्रदेश)
भौगोलिक निर्देशांक23°41′24.4″N 80°03′58.9″E / 23.690111°N 80.066361°E / 23.690111; 80.066361निर्देशांक: 23°41′24.4″N 80°03′58.9″E / 23.690111°N 80.066361°E / 23.690111; 80.066361
वास्तु विवरण
निर्माण पूर्णc. 400-425 CE[2][3]

इस गाँव को 'तिगवाँ' भी कहते हैं। यह गाँव कटनी और जबलपुर के बीच में बहुरीबन्द से ४ किमी की दूरी पर है।

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; katni2011 नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  2. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; BharneKrusche2014p149 नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  3. Francis D. K. Ching; Mark M. Jarzombek; Vikramaditya Prakash (2010). A Global History of Architecture. John Wiley & Sons. पपृ॰ 227–228. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-118-00739-6.
  4. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; cunninghamix नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  5. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; Michell1977p94 नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।