तुम बिन

2001 की अनुभव सिन्हा की फ़िल्म

तुम बिन 2001 की अनुभव सिन्हा द्वारा निर्देशित हिन्दी भाषा की नाटकीय प्रेमकहानी फ़िल्म है। इसमें प्रियांशु चटर्जी, संदली सिन्हा, हिमांशु मलिक और राकेश वशिष्ठ मुख्य भूमिकाओं में हैं। फिल्म टिकट खिड़की पर सफल रही थी और विशेषकर अपने गीतों के लिये प्रसिद्ध रही।[1]

तुम बिन
तुम बिन.jpg
तुम बिन का पोस्टर
निर्देशक अनुभव सिन्हा
निर्माता भूषण कुमार
लेखक अनुभव सिन्हा
अभिनेता प्रियांशु चटर्जी,
संदली सिन्हा,
हिमांशु मलिक,
राकेश वशिष्ठ,
अमृता प्रकाश
संगीतकार निखिल-विनय
छायाकार विजय अरोड़ा
प्रदर्शन तिथि(याँ) 13 जुलाई, 2001
देश भारत
भाषा हिन्दी

संक्षेपसंपादित करें

शेखर (प्रियांशु चटर्जी) और अमर (राकेश वशिष्ठ) एक पार्टी में मिलते हैं जहां अमर शेखर से कहता है कि उसे कनाडा में उसके साथ काम करने आना चाहिए। उसी रात अमर शेखर की कार से मारे जाने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इंस्पेक्टर डैमेलो (मनोज पाहवा) ने शपथ ली कि वह मामले को बंद नहीं करेगा और हत्यारे को पकड़ेगा। शेखर कनाडा में अमर के घर जाता है और उसके पिता को अमर की मौत के बारे में स्वीकार करता है लेकिन पाता है कि अमर की मृत्यु के बाद उसके पिता ने अपने शरीर की सभी इंद्रियों को खो दिया है। वह पिया (संदली सिन्हा) से मिलता हैं जो अमर की मंगेतर है। वह अवसाद में है और यह कोशिश में है कि किसी तरह अमर की कंपनी शाह इंडस्ट्रीज बच जाए। शेखर और पिया ने एक-दूसरे के साथ काम करना शुरू कर दिया और दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगते हैं। वे दोनों शाह इंडस्ट्रीज को वापस पुनर्जीवित करते हैं। वह अभि (हिमांशु मलिक) से मिलते हैं जो भी पिया से प्यार करने लगता है। शेखर को पता चलता है कि पिया को अब उसकी मदद की जरूरत नहीं है और वे भारत लौटने का फैसला करता है। शेखर पिया से अपनी भावनाओं से इंकार कर देता है और विमान में बैठता है। पिया घर जाती है और अभि से सगाई करती है। हवाई अड्डे पर इंस्पेक्टर डैमेलो शेखर को गिरफ्तार करने आते हैं। शेखर ने पिया को फोन किया और उसे बताया कि वह उससे कितना प्यार करता है और कबूल किया कि वह ही वो था जिसने उसके मंगेतर को मारा। पिया उस व्यक्ति के लिए प्यार करने के बारे में अपने को दोषी मानती है जिसने अमर को मारा था।

मुख्य कलाकारसंपादित करें

संगीतसंपादित करें

संगीत निखिल-विनय द्वारा रचित। बोल फैज़ अनवर द्वारा प्रदान किये गए। जगजीत सिंह द्वारा गायी गई गजल "कोई फरियाद" सबसे मशहूर गीत था। साउंडट्रैक पर अन्य सफल गीत "छोटी छोटी रातें", "तुम बिन", "तुम्हारे सिवा" और "प्यार हम को होने लगा" हैं।

क्र॰शीर्षकगीतकारसंगीतकारगायकअवधि
1."तुम्हारे सिवा कुछ ना चाहत करेंगे"फैज़ अनवरनिखिल-विनयउदित नारायण, अनुराधा पौडवाल4:53
2."छोटी छोटी रातें लम्बी हो जाती है"फैज़ अनवरनिखिल-विनयसोनू निगम, अनुराधा पौडवाल5:59
3."तुम बिन क्या है जीना"फैज़ अनवरनिखिल-विनयके॰ एस॰ चित्रा5:55
4."कोई फरियाद तेरे दिल में दबी हो जैसे"फैज़ अनवरनिखिल-विनयजगजीत सिंह9:01
5."थोड़ा दारू विच प्यार मिला दें"टी एस जरनैलटी एस जरनैलटी एस जरनैल4:57
6."मेरी दुनिया में आके मत जा"फैज़ अनवरनिखिल-विनयसोनू निगम4:52
7."प्यार हमको होने लगा"फैज़ अनवरनिखिल-विनयके॰ एस॰ चित्रा, अभिजीत3:12
8."छोटी छोटी रातें लम्बी हो जाती है" (II)फैज़ अनवरनिखिल-विनयअनुराधा पौडवाल, सोनू निगम3:57
9."देखते ही देखते दिल खो गया"फैज़ अनवरनिखिल-विनयअभिजीत, अनुराधा पौडवाल5:07
10."कुछ रूप उसका महका"रवि पवारनिखिल-विनयसोनू निगम4:33
11."मेरी दुनिया में आके मत जा" (II)फैज़ अनवरनिखिल-विनयएस पी सेलजा2:57
12."इस दिल ने सपने क्या क्या सजाए"रवि पवारनिखिल-विनयसोनू निगम4:27

अगली कड़ीसंपादित करें

इसकी अगली कड़ी तुम बिन II 2016 में जारी हुई थी जो फ्लॉप रही थी।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "14 साल बाद: 'तुम बिन 2' का निर्देशन करेंगे अनुभव सिन्हा". ज़ी न्यूज़. मूल से 31 अक्तूबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 जुलाई 2018.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

तुम बिन इंटरनेट मूवी डेटाबेस पर