तोलांगुलासनसंपादित करें

दण्डासन मे बैठकर शरीर के भार को हाथों पर संतुलित करते हुए श्वास अन्दर भरके नितम्ब सहित पूरे पैरों को भूमि पर से ऊपर उठावें।

लाभसंपादित करें

हाथों एवं पैरों के सम्पूर्ण स्नायुओं को अत्यधिक बल प्रदान करता है।

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें