त्यागी पश्चिमी उत्तर प्रदेश , दिल्ली , हरियाणा ,उत्तराखंड , मध्य प्रदेश और राजस्थानके कुछ हिस्सों में पायी जाने वाली एक जमींदार ब्राह्मण जाति है।

त्यागी पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अपनी जमींदारी व् रियासतों से जाने जाते है। निवाड़ी,असौड़ा रियासत, रतनगढ़ , हसनपुर दरबार(दिल्ली), बेतिया रियासत, राजा का ताजपुर , बनारस राजपाठ (भूमिहार), टेकारी रियासत, आदि बहुत सारे प्रमुख राजचिन्ह है। इसके अलावा सैकड़ो बावनी(बावन हजार बीघा जमीन वाले) गांव है।

बनारस का राजघराना (विभूति साम्राज्य) काशी नरेश भी इसी त्यागी भूमिहार परिवार से है। इसके अलावा ईरान, अफ़ग़ानिस्तान एवं पाकिस्तान के भारत से मिलते प्रांतों में भी सामान्य संख्या में है। सन 1931 में इस जाति ने "तगा" शब्द को छोड़ कर "त्यागी" शब्द का प्रयोग शुरू कर दिया था था तथा स्वयं को ब्राह्मण जाति का ही अंग मन लिया। परंतु प्रमाणों के अभाव के कारण अभी भी इस बात में मतभेद है परंतु गोत्र का अध्ययन से ब्राह्मण और त्यागी में कोई अधिक विभिन्नता दिखाई नही पड़ती ।

सन्दर्भसंपादित करें