त्रिपुरी लोग त्विप्र राज्य के मूल निवासी हैं जिसमें वर्तमान समय के पूर्वोत्तर भारत तथा बांग्लादेश के कुछ भाग आते थे। त्रिपुरी लोगों के देववर्मा नामक राजपरिवार ने २००० वर्षों तक त्रुरा राज्य पर शासन किया। १९४९ में यह राज्य भारत में सम्मिलित हो गया।

त्रिपुरी (या, तिपरा) लोग
Tripuri Childrens.jpg
पारम्परिक वेशभूषा में त्रिपुरी बच्चे (गीत गाने के लिए तैयार)
विशेष निवासक्षेत्र
१५ लाख  India,  Bangladesh Language = ककबरक (Debbarma, Reang, Jamatia, Tripura, Noatia, Rupini, Kalai, Murasing, Uchoi)
धर्म
हिन्दू, ईसाई, इस्लाम[1]

और देखेंसंपादित करें

संदर्भसंपादित करें

  1. https://www.trtworld.com/magazine/a-muslim-convert-s-killing-exposes-bangladesh-s-ethnic-fault-lines-47838