दक्षिण चीन सागर में राज्यक्षेत्रीय विवाद

Territorial claims in the South China Sea on (based on outdated / unofficial documents / maps)
South China Sea claims and agreements
Map of various national outposts in the Spratly Islands

दक्षिण चीन सागर के विवादों में सागरीय क्षेत्र के विवाद के साथ ही द्वीपों के विवाद भी हैं। ये विवाद अनेक देशों के बीच हैं जिनमें ब्रुनेई, चीन, ताइवान, इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपीन्स, और वियतनाम मुख्य हैं। दक्षिण चीन सागर से होकर प्रति वर्ष अनुमानतः US$3.37 ट्रिलियन मूल्य का वैश्विक व्यापार होता है[1] जो सम्पूर्ण विश्व के सामुद्रिक व्यापार का एक तिहाई है। [2] चीन के ऊर्जा आयात का 80 प्रतिशत और कुल व्यापार का 39.5 प्रतिशत दक्षिण चीन सागर से ही होता है। [1]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "How much trade transits the South China Sea?". China Power (अंग्रेज़ी में). 2 August 2017. मूल से 8 June 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 30 May 2019.
  2. "Review of Maritime Transport 2018" (PDF). United Nations Conference on Trade and Development. मूल से 12 June 2019 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 30 May 2019.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें