खगोलशास्त्र में दीर्घवृत्त कक्षा (elliptic orbit) एक ऐसी केप्लर कक्षा होती है जिसकी कक्षीय विकेन्द्रता १ से कम है। वृत्ताकार कक्षा इसमें शामिल है, क्योंकि वह एक विशेष प्रकार का दीर्घवृत्त आकार है।[1][2]

अंतरिक्ष में एक छोटी वस्तु अपने से बड़ी किसी वस्तु की दीर्घवृत्त पथ पर परिक्रमा करती हुई - बड़ी वस्तु दीर्घवृत्त के एक केन्द्र पर स्थित है

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. D’Eliseo, MM; Mironov, Sergey V. (2009). "The gravitational ellipse". Journal of Mathematical Physics. 50: 022901–022901. arXiv:0802.2435free to read. Bibcode:2009JMP....50a2901M. doi:10.1063/1.3078419.
  2. Curtis, Howard (2009). Orbital Mechanics for Engineering Students. Butterworth-Heinemann. ISBN 978-0123747785.