यूनिकोड के देवनागरी-खण्ड में उन वर्णों/संकेतों के यूनिकोड दिये गये हैं जो हिन्दी, मराठी, सिन्धी, नेपाली, संस्कृत आदि भाषों को लिखने के लिये प्रयुक्त होते हैं। देवनागरी यूनिकोड की परास (रेंज) 0900 से 097F तक है। (दोनो संख्याएं षोडषाधारी हैं) । इस रेंज में बहुत से ऐसे वर्णों के लिये भी कोड दिये गये हैं जो सामान्यतः हिन्दी में व्यवहृत नहीं होते। किन्तु मराठी, सिन्धी, मलयालम आदि को देवनागरी में सम्यक ढंग से लिखने के लिये आवश्यक हैं।

देवनागरी के यूनिकोडसंपादित करें

  0 1 2 3 4 5 6 7 8 9 A B C D E F
U+090x
U+091x
U+092x
U+093x ि
U+094x
U+095x क़ ख़ ग़ ज़ ड़ ढ़ फ़ य़
U+096x
U+097x  ॱ ग॒ ज॒ ड॒ ब॒

विशेषसंपादित करें

  • अं के लिए अलग से यूनिकोड नहीं है बल्कि इसे दो यूनिकोड को मिलाकर बनाया जाता है- 'अ का यूनिकोड' + 'ं' का यूनिकोड ।
  • क्ष, त्र एवं ज्ञ के लिये भी अलग से कोड नहीं है। इन्हें संयुक्त वर्ण मानकर अन्य संयुक्त वर्णों की भांति इनका अलग से कोड नहीं दिया गया है। अतः
'क्ष' का यूनिकोड = क का यूनिकोड +हलन्त का यूनिकोड + ष का यूनिकोड ।
'त्र' का यूनिकोड = त का यूनिकोड +हलन्त का यूनिकोड + र का यूनिकोड ।
'ज्ञ' का यूनिकोड = ज का यूनिकोड +हलन्त का यूनिकोड + ञ का यूनिकोड ।
  • नुक्ता वाले वर्णों (जैसे ज़) के लिये यूनिकोड निर्धारित किए गए हैं। इसके अलावा नुक्ता के लिये भी अलग से एक यूनिकोड दे दिया गया है। अतः नुक्तायुक्त अक्षर यूनिकोड की दृष्टि से दो प्रकार से लिखे जा सकते हैं - 'एक-बाइट' यूनिकोड के रूप में या 'दो-बाइट' यूनिकोड के रूप में। उदाहरण के लिये ज़ को ' ज ' के बाद नुक्ता (़) टाइप करके भी लिखा जा सकता है।
  • ओंकार के लिए अलग से यूनिकोड दिया गया है- । इसके स्थान पर ओं या 'ओम्' लिखना गलत है।
  • पूर्णविराम के लिए यूनिकोड दिया गया है- , कई लोग अज्ञानवश पूर्णविराम के लिए 'पाइप' ( | ) का उपयोग कर देते हैं। यह गलत है। कुछ लोग ( ! ) उर कुछ लोग ( / ) का उपयोग करते हैं। ये सब गलत हैं।
  • कुछ लोग चन्द्रबिन्दु ( ँ ) और ऑकार ( ॉ ) में अन्तर नहीं करते, यह भी गलत है।
  • कुछ लोग अज्ञानवश विसर्ग ( ः ) के स्थान पर अंग्रेजी का कोलन ( : ) इस्तेमाल कर देते हैं, यह गलत है।
  • इसी तरह अवग्रह ( ऽ ) के बजाय अंग्रेजी का एस ( s ) लिखना भी गलत है।
  • ॊ , ॏ आदि मात्राओं का उपयोग दक्षिण भारत की भाषाओं के शब्द लिखने के लिए किया जाना चाहिए, हिन्दी आदि के लिए नहीं।
  • देवनागरी यूनिकोड में संक्षिप्ति दिखाने के लिए प्रयुक्त चिह्न यह है : () । इसके स्थान पर बहुत से लोग 'फुल स्टॉप' ('.) और कुछ लोग शून्य ( या 0 ) का प्रयोग करते हैं, जो गलत है। अतः 'पु॰ ना॰ ओक' लिखिए, 'पु.ना. ओक' नहीं।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें