देवीचन्द्रगुप्तम् (उच्चारण: Devīcandraguptam) अथवा देवी-चन्द्रगुप्त संस्कृत भाषा का राजनीतिक नाटक है जो विशाखादेव ने लिखा है जिन्हें सामान्यतः विशाखदत्त के रूप में जाना जाता है। नाटक का पूरा पाठ अब खो चुका है लेकिन इसके कुछ भाग उद्धरण के रूप में उपलब्ध हैं।

सन्दर्भसंपादित करें