अपने देश से प्रेम करना और सदा उसका कल्याण सोचना राष्ट्रभक्ति या देशभक्ति (Patriotism) कहलाता है। राजनिष्ठा से बढकर देशनिष्ठा होती है। देशभक्ति सबसे पहले आती है, उसके बाद राजनिष्ठा. लेकिन देशभक्ति और राजनिष्ठा दोनो अलग अलग शब्द है. देशभक्ति निष्काम सेवा है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें