नर वो जीव जिसका लिंग है जो की छोटे मोबाइल गमेट्स पैदा करता हैं जिसे की स्पर्म या शुक्राणु भी कहते हैं।[1] हर एक शुक्राणु एक मादा अंडे के साथ क्रिया कर एक गर्भ के रूप में विकास कर सकता हैं।[2]

रोमन देवता मंगल (युद्ध के देवता) का प्रतीक अक्सर पुरुष सेक्स का प्रतिनिधित्व करने के लिए उपयोग किया जाता है। यह मंगल ग्रह के लिए भी खड़ा है और लोहे के लिए रासायनिक संकेत है ।

हर कोई प्रजाति इस पुरुष और स्त्री के पहचान से नहीं जानी जा सकती है। इंसानों और जानवरों में लिंग जहाँ लिंग (अंग) से बताया जा सकता हैं वही अन्य जीवो में यह कई अन्य बातों पर निर्भर करता हैं।


इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "शुक्राणु क्या है?". अभिगमन तिथि 19 मई 2022.
  2. "युग्मक प्रतियोगिता, युग्मक सीमा, और दो लिंगों का विकास". अभिगमन तिथि 16 अक्टूबर 2014.