नर्गिस बेग़म जिन्हें मखदुमा-ए-जहाँ नाम से भी जाना जाता है, बाहमनी बादशाह हुमायूँ की पत्नि थीं। उन्होंने 1450 से 1473 तक बीदर पर राज किया। उनकी मृत्यु बेलगाम में हुई व बीदर के पास अश्तूर में उनका मकबरा है, जो कि हुमायूं के मकबरे के सामने स्थित है।[1]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. ऋषिकेश बहादुर देसाई (9 फरवरी 2012). "Nargis Begum, the forgotten Bahmani queen". द हिन्दू. मूल से 5 सितंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 सितंबर 2018.