नारानाग
Naranag / ناراناگ
नारानाग की जम्मू और कश्मीर के मानचित्र पर अवस्थिति
नारानाग
नारानाग
नारानाग की स्थिति
सूचना
प्रांतदेश: गान्दरबल ज़िला, जम्मू व कश्मीर
जनसंख्या (-): -
मुख्य भाषा(एँ): कश्मीरी
निर्देशांक: 34°19′31″N 74°56′48″E / 34.32528°N 74.94667°E / 34.32528; 74.94667

नारानाग भारत के जम्मू व कश्मीर राज्य के गान्दरबल ज़िले में २,१२८ मीटर की ऊँचाई पर स्थित एक पर्वतीय पर्यटक स्थल है। यह कंगन से ८ किमी की दूरी पर सिन्द नाले (सिन्धु नदी से भिन्न) नामक नदी की घाटी पर अधिक ऊँचाई पर स्थित है।[1] अपने मर्ग (घास के खुले मैदान), पर्वतों और झीलों के लिये जाने जाने वाले इस स्थान से १६,८४० फ़ुट ऊँचे हरमुख पर्वत और उसके चरणों में स्थित गंगाबल झील के लिये पगडंडी शुरु होती है। यह वंगथ झरने के बाएँ किनारे पर बसा हुआ है, जो आगे चलकर सिन्द नाले में विलय होता है। यहाँ से गडसर झील, विशनसर झील और किशनसर झील के लिये भी रास्ते निकलते हैं हलांकि नारानाग से वहाँ तक पहुँचने के लिये ५ से ७ दिन का पैदल सफ़र तय करना पड़ता है।

नामोत्पत्तिसंपादित करें

'नारा नाग' वास्तव में 'नारायण नाग' का रूप है। कश्मीरी भाषा में 'नाग' का अर्थ पानी का चश्मा होता है। यहाँ का चश्मा हिन्दुओं द्वारा पवित्र माना जाता है।[2]

नारानाग मंदिरसंपादित करें

नारानाग के मंदिर पर्यटकों के लिये एक मुख्य आकर्षण हैं और भारत के सबसे महत्वपूर्ण पुरातन-स्थलों में गिने जाते हैं।[3] यहाँ लगभग २०० मीटर की दूरी पर एक-दूसरे की तरफ़ मुख किये हुए मंदिरों का एक समूह है। इतिहासकारों के अनुसार शिव को समर्पित इन मंदिरों को ८वीं सदी में कश्मीर-नरेश ललितादित्य ने बनवाया था। यह मंदिर वंगत नदी के दाएँ किनारे पर भूतशेर पर्वत ('भूतेश्वर पर्वत' का परिवर्तित रूप) के चरणों में स्थित हैं।[4]

कुछ तस्वीरेंसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. The tourist's and--sportsman's guide to Kashmir and Ladak, &c Archived 16 जनवरी 2014 at the वेबैक मशीन., A E. Ward, page 70, Thacker, Spink, 1896, accessdate: 13 जून 2012
  2. Jammu, Kashmir and Ladakh, Parvez Dewan, pp. 198, Manas Publications, 2004, ISBN 9788170491798, ... Nara Nag: Also known as Narain Nag, this spring is located near Khag village. It is said to get its waters from the Toshamaidan Sar Lake ...
  3. Encyclopaedia Indica, Volume 2 Archived 16 जनवरी 2014 at the वेबैक मशीन., Jagdish Saran Sharma, page 859, S. Chand, 1981, accessdate: 5 जुलाई 2012
  4. Jammu and Kashmir: a tourist guide, Trevor Drieberg, pg. 117, 1978, ... On the right bank of Wangat Nullah is Naranag, the site of many ancient Buddhist temples now in ruins. These temples are situated at the head of Wangat Valley and at the foot of Mount Butsher (Butesvara) on the way to Gangabal ...