नित्यश्री महादेवन

कार्नेटिक गायक


नित्यश्री महादेवन (जन्म 25 अगस्त), जिन्हें एस नित्यश्री के नाम से भी जाना जाता है, वह एक कर्नाटक संगीतकार और प्रमुख गायिका हैं। उन्होंने कई भाषाओं में भारतीय फिल्मों में गाने गाए हैं। नित्यश्री ने भारत के सभी बड़े स्थानों पर प्रदर्शन किया है। उन्होंने 3 एल्बम जारी किए हैं। उन्हें उनके पहले गीत "कन्नडू कानवदलम" के लिए जाना जाता है। यह गीत ए आर रहमान द्वारा तमिल फिल्म जीन्स में बनाया गया था। [1]

नित्यश्री महादेवन
Nithyasree mahadevan.jpg
पृष्ठभूमि की जानकारी
जन्म25 अगस्त 1973 (1973-08-25) (आयु 47)
मूलतिरुवैयारु, तमिलनाडु, भारत
शैलियांकर्नाटक संगीत – भारतीय शास्त्रीय संगीत और पार्श्व गायन
गायिका
सक्रिय वर्ष1987 – आजतक
लेबलHMV, EMI, RPG, AVM Audio, Inreco, Vani, Amutham Music, Charsur Digital Workshop, Carnatica, Rajalakshmi Audio etc.



परिवारसंपादित करें

नित्यश्री,के माता पिता का नाम ललिता शिवकुमार और ईस्वरन शिवकुमार हैं। उनके दादा, डी के पट्टमल,[2] और उनके पिता के चाचा, डी के जयरामन,[3] कर्नाटक संगीत के प्रमुख गायक थे, जो अंबी दीक्षितार, पापनासम शिवन, कोटेश्वर अय्यर, टी एल वेंकटरमेयर और अन्य के प्रमुख शिष्य थे। उनके नाना, मृदंग गुरु पालघाट मणि अय्यर थे।[4]


नित्यश्री ने सबसे पहले अपनी मां ललिता शिवकुमार से संगीत सीखा।[3] अपनी माँ की तरह,[5] नित्यश्री भी डी के पट्टमल के शिष्य थे,[6] और उनकी संगत करते थे। उनके पिता, ईस्वरन शिवकुमार, एक सिद्ध मृदंग वादक और अपने ससुर, पालघाट मणि अय्यर के शिष्य थे। उन्होंने नित्यश्री की हौसला दिया और समारोह के दौरान उसकी संगत भी की।[7] कुछ समारोहों में नित्यश्री की भतीजी और शिष्या लावण्य सुंदररमन भी उनका साथ देती हे।[8][9]


नित्यश्री की शादी एक मैकेनिकल इंजीनियर वी महादेवन से हुई, जिनकी मृत्यु 2012 में हुई।[10] तनुजश्री और तेजश्री, उनकी दो बेटियाँ हे,[4][11] वे भी संगीत अनुष्ठानो में अपनी माँ के साथ शामिल हुईं।[12]


संगीत कैरियरसंपादित करें

पहला प्रदर्शनसंपादित करें

14 साल की उम्र में, नित्यश्री ने सार्वजनिक रूप से अपनी पहली कर्नाटकी प्रस्तुति पेश की [5] 1 घंटे के इस आयोजन मे, प्रमुख कर्नाटक संगीतकारों में डी के पटमल, डी के जयरामन और मुख्य अतिथि के वी नारायणस्वामी शामिल थे।[13]


विदेशों में कार्यक्रमसंपादित करें

नित्यश्री महादेवन संयुक्त राज्य अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, की संयुक्त अरब अमीरात, जर्मनी, फ्रांस, सिंगापुर, मलेशिया, स्विट्जरलैंड, बेल्जियम, न्यूजीलैंड, तंजानिया , श्रीलंका और दुनिया भर में, अन्य स्थानो मे संगीत कार्यक्रम प्रस्तुत किया है।[7]


पार्श्व गायनसंपादित करें

प्रमुख संगीत निर्माता ए आर रहमान कि एक तमिल फिल्म जीन्स में रिकॉर्डिंग के बाद नित्यश्री महादेवन ने एक प्रमुख गायिका के रूप में शुरुआत की। इसके प्रमुख गायिका के रूप में पहला गीत "कन्नडू कांवडेलम" जारी होने के तुरंत बाद, वह हिट हो गयी,[14] और १९९८ में सर्वश्रेष्ठ महिला कलाकार के लिए तमिलनाडु राज्य फिल्म पुरस्कार जीता।

1998 में अपनी तत्काल सफलता के बाद, नित्यश्री ने ए आर रहमान के लिए एक ही संयोजन में अधिक गाने रिकॉर्ड करना शुरू कर दिया, जैसे 1999 की फिल्म पदयप्पा के लिए "मिनसारा कन्ना", 1999 की फिल्म पदम के लिए "सोविकाम्मा कन्नाए" और 2001 की फिल्म के लिए "मनमाथा मासम" पार्थले परवसम। 2006 के संकलन ए आर रहमान की रिलीज़ के बाद इन गीतों को फिर से डिजिटल स्टोर्स में सफलतापूर्वक प्राप्त किया गया। [15]

उनके कुछ अन्य तमिल फिल्मी गीतों में 2004 में रिलीज़ हुई नई से "कुंभकोणम संध्याइल", 2002 में रिलीज़ हुई "ओरु नादि ओरु पूर्णमनी", 2002 में रिलीज़ "काना कंगीरन", आनंद थंडम, विलेन से "ओरे मनम" और "थई थिंद्रा मन्नाए" शामिल हैं। 2010 में रिलीज़ फिल्म अय्यरथिल ओरुवन से। [15] नित्यश्री ने उन फिल्मों के लिए भी गाने रिकॉर्ड किए, जो अन्य दक्षिण भारतीय भाषाओं में थीं, जिनमें 2004 की कन्नड़ फिल्म 'संगीतमित्रा' में गुरुकिरन के लिए "रा रा", 2005 की तेलुगु-डब की गई फिल्म चंद्रमुखी में संगीत निर्देशक विद्यासागर के लिए "वरई" और "वरुवयी थोझी" शामिल हैं। "2012 में मलयालम फिल्म अरीके में संगीतकार ओसेपचन के लिए।


सन्दर्भसंपादित करें

  1. Methil Renuka (2000). "Keeping tune with times". India Today. Thomson Living Media India Limited. 25: 292.
  2. "The Hindu : Tamil Nadu / Coimbatore News : D.K. Pattammal's biography to be released". The Hindu. 20 November 2007. मूल से 15 जून 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 May 2010.
  3. Aruna Chandaraju (20 May 2005). "The Hindu : Entertainment Bangalore / Music : Proud pedigree is not all". The Hindu. मूल से 16 अप्रैल 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 April 2014.
  4. "Singer Nithyasree's husband ends life by jumping in river – The Times of India". Times of India. 21 December 2012. मूल से 23 फ़रवरी 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 April 2014.
  5. M.K.Balagopal (6 November 2003). "The Hindu : A masterly performance". The Hindu. मूल से 23 नवंबर 2007 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 April 2014.
  6. "The Hindu : Retail Plus Hyderabad : Audio Release". The Hindu. 17 October 2008. मूल से 19 अप्रैल 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 April 2014.
  7. Rayan Rozario (30 June 2003). "The Hindu : Singing soothing notes". The Hindu. मूल से 11 अगस्त 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 April 2014.
  8. Bhanu Kumar (23 July 2011). "Blooming bud – Mumbai Mirror". Mumbai Mirror. मूल से 2 अप्रैल 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 20 March 2015.
  9. "The Hindu: An Evening of Melody". The Hindu. 20 March 2009. मूल से 16 अप्रैल 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 April 2014.
  10. Petlee Peter & R. Sujatha (21 December 2012). "A big shock to music lovers – The Hindu". The Hindu. मूल से 13 अप्रैल 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 April 2014.सीएस1 रखरखाव: authors प्राचल का प्रयोग (link)
  11. Rajagopalan Venkataraman (21 December 2012). "Pall of gloom descends on Kotturpuram – The New Indian Express". New Indian Express. मूल से 13 अप्रैल 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 April 2014.
  12. B. Ramadevi (21 December 2012). "The Hindu : Friday Review Chennai / Music : Deluge of ragas and songs". The Hindu. मूल से 22 अगस्त 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 April 2014.
  13. Jaya TV's Margazhi Mahautsavam. Jaya TV. Maximum Media. 31 December 2007.
  14. S.Aishwarya (9 June 2007). "Steeped in tradition - The Hindu". The Hindu. अभिगमन तिथि 2 January 2015.
  15. Sangeetha (31 July 2009). "The Hindu : Friday Review Thiruvananthapuram / Interview : Musical legacy". The Hindu. मूल से 14 सितंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 April 2014.