मुख्य मेनू खोलें

निर्धारणवाद या नियतत्ववाद ( Determinism) वह दार्शनिक विचार है जिसका मानना है कि मानव द्वारा किये जाने वाले कारों सहित, प्रत्येक घटना के लिये ऐसी स्थितियाँ मौजूद होतीं हैं, जो उस घटना के के अतिरिक्त कोई दूसरी घटना उत्पन्न ही नहीं कर सकतीं थीं।