न्यूट्रॉन तारा किसी भारी तारे के महानोवा (सुपरनोवा) घटना (प्रकार- २, 1b एवं 1c) के बाद उसके गुरुत्वीय पतन से बना हुआ अवशेष होता है।[1] यह तारे केवल न्यूट्रॉन के बने होते हैं। इनका आकार बहुत छोटा मगर द्रव्यमान बहुत ज्यादा होता है।इनमें नाभिकीय घनत्व होता है, जो पानी के घनत्व का लगभग10की घात13 अथवा14 गुना होता है।

    एक चम्मच न्यूट्रॉन स्टार का भार क़रीब क़रीब मान लो की पृथ्वी के माउंट एवेरेस्ट इतना होता है ! 

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "https://www.patrika.com/bangalore-news/proof-of-connecting-with-neutron-stars-1913664/". मूल से 17 अक्तूबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 17 अक्तूबर 2017. |title= में बाहरी कड़ी (मदद)