जैन धर्म की मान्यता के अनुसार माता पद्मावती 23वें तीर्थंकर भगवान पार्श्वनाथ की अधिष्ठायिका देवी है। जो भी भक्त भगवान पार्श्वनाथ की सेवा करते हैं, पद्मावती देवी उनकी सदैव सहायता करती है।[1]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "शंखेश्वर तीर्थ पर झाबुआ के रूनवाल परिवार ने किया पार्श्व पद्मावती पूजन". दैनिक भास्कर. २०१७. अभिगमन तिथि २५ सितम्बर २०१८.