परजान दस्तूर एक भारतीय अभिनेता हैं। उन्होंने बाल कलाकार के रूप में भी कार्य किया था।

परजान दस्तूर
जन्म 30 नवम्बर 1993[1]
मुम्बई, महाराष्ट्र, भारत
व्यवसाय अभिनेता, मॉडल
सक्रिय वर्ष 1998–वर्तमान

पृष्ठभूमिसंपादित करें

परजान दस्तूर को "धारा" नामक प्रसिद्ध विज्ञापन के उस बच्चे के रूप में जाना जाता है जो उसमें वह स्वादिष्ट अंदाज में कहता है "जलेबी..."[1]

फ़िल्मी करियरसंपादित करें

परजान ने विभिन्न वाणिज्यीक विज्ञापनों में कार्य किया है। परजान ने फ़िल्मों में अपने अभिनय की शुरूआत मौन सरदारजी (सिख-बच्चा) के रूप में फ़िल्म कुछ कुछ होता है (१९९८) से किया।[1] उनकी अन्य फ़िल्में मोहब्बतें (2000), ज़ुबेदा (2001) और कभी खुशी कभी ग़म (2001) हैं। उन्होंने राहुल ढोलकिया की फ़िल्म परजानिया (2005) में परजान की भूमिका निभाई है एक ऐसा वह लड़का जो गुजरात दंगों में खो जाता है।

परजान ने पियूष झा की फ़िल्म सिकन्दर (2009) में एक ऐसे लड़के का अभिनय किया है जो एक फुटबॉल खिलाड़ी बनना चाहता है लेकिन उसे एक बन्दूक मिल जाती है और उसकी दूनिया ही बदल जाती है।[2]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "बड़े हो गए परजान दस्तूर". लाइव हिन्दुस्तान. 9 सितम्बर 2009. मूल से 4 नवंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 जुलाई 2013.
  2. "About". मूल से 19 फ़रवरी 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 जुलाई 2013.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें