परवलयज परावर्तक

परावर्तक , जो एक दबे गोलाकार के आकार का हो।

परवलयज परावर्तक (parabolic reflector या paraboloid reflector या paraboloidal reflector) ऐसे परावर्तक तल को कहते हैं जो वृत्तीय परवलयज का एक भाग होता है। इसका उपयोग प्रकाश, ध्वनि या रेडियो तरंगों को प्रसारित करने या एकत्र करने के लिए किया जाता है (जैसे परवलयज एन्टेना)। परवलयज परावर्तक का एक विशेष गुण यह है कि अपने अक्ष के समान्तर आपतित समतल तरंग (plane wave) को यह परावर्तक एक गोलीय तरंग में बदल देता है और अपने फोकस बिन्दु पर अभिसरित (कन्वर्ज) कर देता है। इसी प्रकार, परवलयज परावर्तक के फोकस बिन्दु पर रखे किसी बिन्दु स्रोत से निकलने वाली गोलीय तरंगों को यह अपने अक्ष के समान्तर गति करने वाली समतल तरंग में बदल देता है।

जर्मनी में स्थित एक विशाल परवलयज उपग्रह संचार एन्टेना । यह विश्व की सबसे बड़ी संचार उपग्रह एन्टेना है।
विश्व की एक सबसे बडी सौर ऊर्जा एन्टेना में से एक इजराइल में स्थित है
परवलयज परावर्तक का सिद्धान्त । परवलयज की यह ज्यामितीय विशेषता है कि FP1Q1, FP2Q2, FP3Q3 आदि दूरियाँ समान होतीं हैं। अतः छतरी के फोकस पर रखी गयी फीड से उत्पन्न कोई गोलीय तरंगपार्श्व इसके तल से परावर्तित होने के बाद समतल तरंग में बदल जाता है और इसके अक्ष के समान्तर गति करता है।

सन्दर्भसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें