परिचय कार्ड (विज़िटिंग कार्ड) या परिचय पत्रक (औपचारिक), जिसे मुलाकाती कार्ड या व्यवसाय कार्ड भी कहते हैं, सामाजिक उद्देश्यों के लिए उपयोग किया जाने वाला एक छोटा कार्ड है। 18 वीं शताब्दी से पहले, सामाजिक मुलाकात करने वाले आगंतुक उन दोस्तों के घर पर हस्तलिखित चिट छोड़ते थे जो घर पर नहीं मिलते थे। 1760 के दशक तक, फ्रांस और इटली में उच्च वर्ग के लोगों ने इन चिटों के स्थान पर मुद्रित कार्ड छोडना शुरु कर दिया था जिसमें एक तरफ छवियाँ छपी होती थीं जबकि दूसरी ओर का भाग कोरा होता था जिस पर संदेश लिखा जा सकता था। जल्द ही यह कार्ड पूरे यूरोप और संयुक्त राज्य अमेरिका में लोकप्रिय हो गए। जैसे-जैसे मुद्रण प्रौद्योगिकी में सुधार हुआ, विभिन्न रंगों और डिजाइन से छपे कार्ड बहुत लोकप्रिय हो गए। हालांकि, 1800 के दशक के अंत तक, सादे और सरल कार्ड ज्यादा लोकप्रिय हो गए।

विवरणसंपादित करें

आमतौर पर एक आधुनिक परिचय कार्ड किसी मोटे कागज पर छपा एक कार्ड है, जिसका उद्देश्य किसी व्यक्ति के कुछ परिचयात्मक पहलुओं को शामिल करना है। यह किसी अन्य व्यक्ति को उनके परिचय और भविष्य में उनसे संपर्क करने का विवरण देता है।

परिचय कार्ड में आमतौर पर निम्नलिखित जानकारी शामिल हो सकती हैं: -

  • व्यक्ति का नाम
  • व्यक्ति का पेशा या पद
  • संस्थागत संबद्धता
  • शैक्षणिक योग्यता, डिग्री और शैक्षणिक संस्थान हो सकते हैं।
  • संपर्क पते: इसमें आधिकारिक और व्यक्तिगत पते शामिल हो सकते हैं।
  • दूरभाष संख्या: अचल (लैडलाइन) और सचल (मोबाइल)
  • ईमेल
  • फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप लिंक।

सन्दर्भसंपादित करें