पलनि मुरुगन मन्दिर या 'पलनि दण्डायुधपाणि मन्दिर' मुरुगन स्वामी के ६ धामों में से एक है। यह पलनी में शिवगिरि के शिखर पर स्थित है। माना जाता है कि मुख्य देवता की मूल मूर्ति अत्यधिक विषैली जड़ी बूटियों का उपयोग करके बोग सिद्धार द्वारा बनाई गई है जिसकी उपस्थिति से भी लोग मर सकते हैं और इसलिए कई बार यह विवादों में भी रहा है। यहां पलनी तमिलनाडु में स्थित है।

पलनि मुरुगन मन्दिर का एक भाग


सन्दर्भसंपादित करें