मुख्य मेनू खोलें

पवन के गतिज ऊर्जा का उपयोग कर पवनचक्कियों द्वारा पैदा की गयी ऊर्जा पवन ऊर्जा कहलाती है। यह एक गैर-परंपरागत ऊर्जा स्रोत है। भूमि के वैसे क्षेत्रों में जहाँ साल के ज्यादातर हिस्सों में गतिमान पवन मौजूद है, पवन चक्कियाँ लगाने के लिए आदर्श क्षेत्र है। इसमें जमीन की सतह से कुछ ऊँचाई पर जेनरेटर लगाए जाते हैं जो पवन की उपलब्धता के अनुसार बिजली का उत्पादन होता है। पवन ऊर्जा के उत्पादन में भारत का पाँचवा स्थान है।