कण भौतिकी में पाइआन अथवा पाइमेसॉन एक संयुक्त हैड्रॉन कण है। दो भिन्न क्वार्क के संयोजन से यह कण प्राप्त होता है। प्रकृति में तीन प्रकार के पाइआन π, π+ और π पाये जाते हैं। पाइआन सबसे कम द्रव्यमान वाले मेसॉन कण होते हैं जो निम्न ऊर्जा पर प्रबल अन्योन्य क्रियाओं को साझने में सहायक है।

पाइआन
Quark structure pion.svg
पाइआन की क्वार्क संरचना
संघटनπ+: ud
π: uu or dd
π: du
सांख्यिकीबोसॉन
अन्योन्य क्रियाप्रबल
प्रतिकπ+, π, and π
Theorizedहिदेकी युकावा (1935)
आविष्कारसेसर लेटस, ग्यूसेप ओच्चिअलिनि (1947) और सेसिल पावेल
प्रकार3
द्रव्यमानπ±: 139.57018(35) MeV/c2
π: 134.976599(6) MeV/c2
विद्युत आवेशπ+: +1 e
π: 0 e
π: −1 e
प्रचक्रण0
समता−1

सन्दर्भसंपादित करें