प्रकाशिकी (ओप्टिकस) के क्षेत्र में, पारदर्शिता (transparency) किसी पदार्थ का वह गुण होता है जिसमें वह प्रकाश की किरणों को अपने भीतर से बिना बिखेरे आने-जाने दे। पारभासकता (translucency) किसी चीज़ का वह गुण होता है जो प्रकाश को अपने से आर-पार गुज़रने तो दे लेकिन संभवतः उसमें ज़रा-बहुत रुकावट या बिखराव डालनें से क्षीण कर दे।[1][2]

प्रत्येक ख़ाने के पीछे एक तारा है; 1. अपारदर्शिता, 2. पारभासकता, और 3. पारदर्शिता की तुलना

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Fox, M. (2002). Optical Properties of Solids. Oxford University Press.
  2. Kerker, M. (1969). The Scattering of Light. Academic, New York.