पियरे फ्रेडे, बैरोन डे कोबेर्टिन (फ्रेंच उच्चारण: [pjɛʁ də kubɛʁtɛ̃]; 1 जनवरी 1863 – 2 सितम्बर 1937) एक फ्रांसीसी शिक्षाशास्री और इतिहासकार थे, अन्तर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति के संस्थापक और आधुनिक ओलंपिक खेलों के जनक मानें जाते हैं। फ्रांसीसी कुलीन परिवार में जन्में, पियरे फ्रेडे शैक्षणिक बनें व व्यापक श्रेणी के विषयों का अध्ययन किया, सबसे उल्लेखनीय रूप से शिक्षा और इतिहास।

बैरोन पियरे डे कोबेर्टिन
पियरे डे कोबेर्टिन

कार्य काल
1896 – 1925
पूर्ववर्ती देमित्रिस विकेलस
उत्तरावर्ती हेनरी डे बेली-लोटोर
गोडेफ्रोय डे ब्लोने (कार्यकारी)

जन्म 01 जनवरी 1863
पेरिस, फ्रांस
मृत्यु 2 फ़रवरी 1937(1937-02-02) (उम्र 74)
जिनेवा, स्विट्जरलैंड
व्यवसाय शिक्षाशास्री, इतिहासकार

प्रारंभिक जीवनसंपादित करें

पियरे फ्रेडे का जन्म 1 जनवरी 1863 को पेरिस में एक स्थापित कुलीन परिवार में हुआ। यह बैरोन चार्ल्स लुई फ्रेडे, बैरोन डे कोबेर्टिन और मेरी-मार्साल जिग्ल्ट डे क्रिसनोय के चौथे बच्चे थे।


पियरे का जन्म १जन्वरी १८६३ को पेरिस के ऊँचे कुलीन परिवार मे हुआ था वह अप्ने माता-पिता की चौथी सन्तान थे उनके खानदान के इतिह्हस से पता चलता है कि ११ वें लुई ने उनके पूर्वजों कोअलंकरण से सम्मानित किया था उनके पिता चार्ल्स की बनाई पेन्टिगों को प्रदर्शित व सम्मानित किया गया [1]

जीवन पश्चात्संपादित करें

पियरे अपने परिवार के नाम के अंतिम सदस्य थे। इनके जीवनीकार जॉन मैकअलून के शब्दों में, "अपने वंश के अंतिम, पियरे डे कोबेर्टिन ही एकमात्र सदस्य थे जिनकी ख्याति अतिजीवित रहेगी"।[2]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Ancestry of Pierre de Coubertin". Roglo.eu. मूल से 27 अगस्त 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 अक्टूबर 2011.
  2. MacAloon, p 12

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें