मुख्य मेनू खोलें

अब्दुल खादिर (7 अप्रैल 1926 - 16 जनवरी 1989), जिन्हें उनके सिनेमाई नाम प्रेम नज़ीर (मलयालम: നസീര് പ്രേം) से बेहतर जाना जाता है, एक भारतीय फिल्म अभिनेता थे। इन्हें मलयालम सिनेमा के सबसे बड़े सितारों में से एक माना जाता है, साथ ही इन्हें नित्य हरित नायकन यानि सदाबहार नायक कह कर भी पुकारा जाता है।

प्रेम नज़ीर
225px
जन्म अब्दुल खादिर
7 अप्रैल 1926
चिरायिनकीझु, त्रावणकोर, ब्रिटिश राज
मृत्यु 16 जनवरी 1989(1989-01-16) (उम्र 62)
चेन्नई, तमिल नाडु, भारत
अन्य नाम नित्यहरित नायकन (നിത്യഹരിത നായകന്‍) (सदाबहार नायक)
व्यवसाय अभिनेता
माता-पिता शाहुल हमीद
आस्मांबीवी

नज़ीर के नाम चार गिनीज रिकॉर्ड दर्ज है; पहला: 610 फिल्मों में नायक की भूमिका निभाने का कीर्तिमान, दूसरा: 107 फिल्मों में एक ही नायिका (शीला के साथ) नायक की भूमिका निभाने का कीर्तिमान, तीसरा: एक साल में प्रदर्शित अधिकतम फिल्मों का कीर्तिमान (1979 में उनतालीस फिल्में) और चौथा: 80 नायिकाओं के साथ नायक की भूमिका निभाने का कीर्तिमान। इन्हें भारतीय सिनेमा के सबसे सफल अभिनेताओं में से एक माना जाता है। भारत सरकार द्वारा नज़ीर को उनके भारतीय सिनेमा में योगदान को देखते हुए तीसरे और चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान क्रमशः पद्म भूषण और पद्म श्री से सम्मानित किया गया है।

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

प्रेम नज़ीर को सन १९८३ में भारत सरकार द्वारा कला के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।