प्लेस्टेशन जिसे आधिकारिक रूप से पीएस नाम से भी जाना जाता है, एक वीडियो गेम कंसोल है। इसका निर्माण और विकास सोनी ने किया है। इसके बारे में पहली बार 3 दिसम्बर 1994 को जापान में बताया गया था। उसी दौरान प्लेस्टेशन कंसोल का भी उदघाटन किया गया था। इसमें चार कंसोल के साथ साथ एक गाने बजाने वाला और ऑनलाइन सेवा के साथ बहुत सारे इससे जुड़े पुस्तक भी थे।

प्लेस्टेशन
PlayStation Wordmark.svg
3वि॰ बहूरंगीय चिन्ह का 2वि॰ मोनोक्रोम संस्करण
उत्पाद का प्रकार घरेलू गेम कंसोल
मालिक सोनी
देश टोक्यो, जापान
शुरुआत 1994
बाजार वैश्विक
पंजीकृत व्यापार वैश्विक

इतिहाससंपादित करें

इसका निर्माण करने की सोच केन कुटारगी के मन में आया था। यह परियोजना मुख्य रूप से 1988 में शुरू हुई। इसे सोनी और निनटेंडो ने मिल कर एक साथ इस परियोजना की शुरुआत की। यह पहले सीडी-रॉम के लिए बना रहे थे। लेकिन बाद में निनटेंडो ने इस परियोजना से मना कर दिया। मार्च 1991 में सोनी ने सीडी-रॉम में पहले से स्थापित इसे प्लेस्टेशन नाम दिया। जून 1991 में इसे दिखाया। इसके खुलासे के दूसरे दिन ही निनटेंडो ने एक खुलासा किया कि वह सोनी के साथ साझेदारी तोड़ रहा है। निनटेंडो ने इस अनुबंध को होने से पहले ही तोड़ दिया था तो इस लिए यह तय नहीं हो पाता है कि लाभ को किस तरह से दो कंपनी के मध्य विभाजित किया जाएगा।

हाथ में रखने लायकसंपादित करें

ऐसे कंसोल जिसे हाथ में रख कर भी खेला जा सकता है और कहीं भी ले जाया जा सकता है। सोनी ने पहली बार इस तरह के कंसोल का निर्माण 2004 में किया था।

प्लेस्टेशन पोर्टेबलसंपादित करें

 
सोनी का पहला हाथ में खेलने लायक कंसोल पीएसपी-1000

सोनी ने दिसम्बर 2004 में पहली बार ऐसे कंसोल को बाजार में उतारा जिसे कोई भी अपने हाथों में रख कर खेल सकता है। इसका नाम पीएसपी-1000 था। इसे मार्च 2015 को भी उतारा गया था। इसमें अलग अलग रूप और रंग में बटन हैं। इसमें   ('त्रिकोण'),   ('वृत'),   ('अवच्छेद') और   ('चौकोर') आकार के स्वेत रंग के बटन हैं।

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें