फाजिलनगर उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले का छोटा सा कस्बा है। यह कुशीनगर से २० किमी पूरब में राष्ट्रीय राजमार्ग २८ पर स्थित है। गोरखपुर से इसकी दूरी ७१ किमी (पूर्व दिशा में) है। फाजिल नगर को 'पावापुरी' भी कहा जाता है। कुछ इतिहासकारों का मानना है कि जैन धर्म की वास्तविक 'पावापुरी' यही है (न कि बिहार में स्थित पावापुरी) जहाँ महावीर स्वामी को निर्वाण प्राप्त हुआ था। इसिलिए जैन श्रद्धालुओं ने यहाँ पर एक जैन मन्दिर का निर्माण कराया है।पुरातत्व विभाग द्वारा खुदाई में प्राचीन काल का एक महल भी आज यहां देखा जा सकता है जो खुदाई के पूर्व मिट्टी का टिला हुआ करता था। ऐसा विश्वास किया जाता है कि कुशीनगर से वैशाली जाते समय महात्मा बुद्ध यहाँ रुके थे और अपने एक शिष्य के घर भोजन किया था।

पालि त्रिपिटक के अनुसार मल्ल राजाओं की दूसरी राजधानी थी। यहाँ के मन्दिर में अतिसुन्दर 'मनस्तम्भ' और चार सुन्दर मूर्तियाँ हैं। यहाँ दीपावली के अगले दिन एक मेला लगता है। कार्तिक पूर्णिमा को 'निर्वाण महोत्सव' की छटा देखने बहुत से तीर्थयात्री आते हैं।

यहाँ भगवान महावीर पी.जी. कॉलेज एवं अन्य विद्यालय हैं।

एटीएम

एसबीआई एटीएम

एचडीएफसी एटीएम

आईसीआईसीआई एटीएम

सेंट्रल बैंक एटीएम

पीएनबी एटीएम