बलबीर सिंह चौहान

भारतीय विधि आयोग के 21वें सदस्य

न्यायमूर्ति डॉ॰ बलबीर सिंह चौहान भारतीय विधि आयोग के 21वें अध्यक्ष हैं। 10 मार्च, 2016 को केंद्र सरकार ने उन्हें इस पद पर नियुक्त किया। इसके पूर्व वे कावेरी नदी जल विवाद न्यायाधिकरण के अध्यक्ष थे। वे मई, 2009 से जुलाई, 2014 के मध्य भारत के उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश रह चुके हैं।[1][2][3]वे 16 जुलाई 2008 से 10 मई 2009 तक उड़ीसा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रह चुके हैं।

बलबीर सिंह चौहान

पद बहाल
11 मई 2009 – 1 जुलाई 2014

मुख्य न्यायाधीश, उड़ीसा उच्च न्यायालय
पद बहाल
16 जुलाई 2008 – 10 मई 2009

जन्म 2 जुलाई 1949 (1949-07-02) (आयु 71)
शैक्षिक सम्बद्धता मेरठ विश्वविद्यालय
बनारस हिंदू विश्वविद्यालय

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Ex-SC judge Balbir Singh Chauhan new Law Commission chairman" [भूतपूर्व अनुसूचित जाति न्यायाधीश बलबीर सिंह चौहान नए विधि आयोग के अध्यक्ष] (अंग्रेज़ी में). दि हिन्दू. मूल से 21 दिसंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 मार्च 2016.
  2. "Justice B S Chauhan appointed as the Chairman of CWDT" [न्यायमूर्ति बी एस चौहान सीडब्ल्यूडीटी के अध्यक्ष नियुक्त] (अंग्रेज़ी में). जागरण जोश. मूल से 11 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 मार्च 2016.
  3. "Justice Balbir Singh Chauhan - Supreme Court of India" [न्यायमूर्ति बलबीर सिंह चौहान - सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया] (अंग्रेज़ी में). सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया का जालस्थल. मूल से 24 सितंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 मार्च 2016.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें