बिहारी भाषाएँ

पूर्वी हिन्द–आर्य भाषाओं का पश्चित्मी समूह है जो मुख्यतः भारत में बिहार एवं इसके अन्य पड़ोसी रा

बिहारी पूर्वी हिन्द–आर्य भाषाओं का पश्चित्मी समूह है जो मुख्यतः भारत में बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और नेपाल के तराई क्षेत्र में बोली जाती है।

बिहारी शब्द को समूह के मायने जोड़ने का प्रथम प्रयास अंग्रेज भाषा-वैज्ञानिक सर जार्ज अब्राहम ग्रियर्सन द्वारा देखा जाता है। बिहारी समूह की प्रमुख भाषाओं में - मैथिली, भोजपुरी, मगही, अंगिका, बज्जिका, नागपुरी, खोरठा, पंचपरगनिया, कुरमाली इत्यादि भाषायें हैं। ये सभी भाषाएँ हिन्द-यूरोपीय भाषा-परिवार में आती हैं।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें