बीजापुर सल्तनत या आदिलशाही सल्तनत (1490-1686) दक्कन का एक राज्य था। यह बहमनी सल्तनत का एक प्रांत था जिसका सूबेदार युसूफ़ आदिलशाह था जिसने बीजापुर को 1490 में स्वतंत्र घोषित कर दिया। उसने इसके साथ ही आदिलशाही वंश की स्थापना भी की। 1686 में औरंगजेब ने इसको मुग़ल साम्राज्य में मिला लिया।

The House of Bijapur: Album leaf, ca. 168

प्रमुख शासक

1. इब्राहिम आदिल शाह द्वितीय

आदिलशाह वंश का महत्वपूर्ण शासक था, जो जगत गुरुअबला बाबा या निर्धनों का मित्र के रूप में प्रसिद्ध है । इसने कुछ इमारतों का निर्माण करवाया जिसे "संयुक्त इब्राहिम का रोजा" कहा जाता है । इसने किताब-ए-नौरस/नवरस नामक पुस्तक लिखी । इसने नौरस नामक नगर बसाया ।

2. मुहम्मद आदिल शाह

इसने गोल गुम्बज का निर्माण करवाया, जो भारत का सबसे बड़ा गुम्बज है ।