बेल्वेडियर एस्टेट, भारत के राज्य पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में स्थित एक ऐतिहासिक महत्व का स्थान है। बेल्वेडियर एस्टेट परिसर में "बेल्वेडियर हाउस" है, जिसमें 1948 से भारत का राष्ट्रीय पुस्तकालय कार्यरत है। बेल्वेडियर एस्टेट में बेल्वेडियर हाउस के अलावा एक 30 एकड़ (12 हेक्टेयर) का मैदान भी है। यह कोलकाता के इलाके अलीपुर में, कोलकाता चिड़ियाघर के निकट स्थित है। राष्ट्रीय पुस्तकालय की शुरुआत से पहले बेल्वेडियर हाउस भारत के वायसराय और उसके बाद में बंगाल के राज्यपाल का आधिकारिक निवास भी था।

1838 में बेल्वेडियर हाउस का चित्रण, एंग्लो-इंडियन व्यापारी और कलाकार विलियम प्रिंसेप द्वारा किया गया। यह संपत्ति परिवार की थी, जिसने इसे 1854 में ईस्ट इंडिया कंपनी को बेच दिया था।

उन्नीसवीं शताब्दी के शुरुआती दिनों तक बेल्वेडियर हाउस, गवर्नर-जनरल का आधिकारिक निवास स्थान था और उस समय गवर्नमेंट हाउस (वर्तमान में राजभवन) का निर्माण कार्य चल रहा था। गवर्नर-जनरल के गवर्नमेंट हाउस में जाने के बाद, बेल्वेदेयर हाउस को बंगाल के उपराज्यपाल (लेफ्टिनेंट-गवर्नर) का निवास बना दिया गया। 1912 में जब कोलकाता से बदलकर दिल्ली को राजधानी बनाया गया, और बंगाल के लेफ्टिनेंट-गवर्नर को गवर्नर के रूप में प्रोन्नत किया गया तो वह भी बेल्वेदेयर हाउस को छोड़ कर गवर्नमेंट हाउस में रहने चले गए।

सन्दर्भसंपादित करें