बैक्ट्रिया

(बैक्ट्रीया से अनुप्रेषित)

बैक्ट्रिया या बाख़्तर (संस्कृत: वाह्लिका, फ़ारसी: باختر‎ बाख़्तर, यूनानी: Βακτριανή बाक्त्रिआई), जिसे तुषारिस्तान, तुख़ारिस्तान और तुचारिस्तान भी कहा जाता है, मध्य एशिया के उस ऐतिहासिक क्षेत्र का प्राचीन नाम है जो हिन्दु कुश पर्वत श्रंखला और अमू दरिया के बीच पड़ता है।[1]

बैक्ट्रिया के प्राचीन शहर

आधुनिक राजनितिक इकाइयों के अनुसार यह अफ़ग़ानिस्तान, ताजिकिस्तान और पाकिस्तान में बँटा हुआ है।

सर्वप्रथम सन 1838 ईसवी में बैक्ट्रिया शब्द ग्रीक शब्द से निकला । जिसका अर्थ लिटिक स्टिक होता है । इसका कारण यह है । पहली बार खोजा गया बैक्ट्रिया रॉड के आकार का था ।

बैक्ट्रिया की खोज सबसे पहले 17 वी शताब्दी में एक डच वैज्ञानिक वान लीवेहोइक  के द्वारा किया गया था । उन्होंने इसके साथ- साथ प्रोटोजोवा की भी खोज की । जब प्रोटोजोआ का खोज हो गया । खोज हो जाने के बाद read more

स्रोतसंपादित करें

  1. P. Leriche, "Bactria, Pre-Islamic period." Encyclopaedia Iranica, Vol. 3, 1998.

इन्हें भी देखेंसंपादित करें