किसी पदार्थ को प्रतिबलित करने पर (तानने, दबाने, मोड़ने, पीटने आदि पर) यदि विकृत होने (तनने, सिकुड़ने, मुड़ने, फैलने आदि) के बजाय टूट जाय तो पदार्थ के इस गुण को भंगुरता (Brittleness) कहते हैं।कार्बन कि मात्रा बढने पर steel की भंगुरता बढती है। अधिकांश सिरामिक पदार्थ, काँच और कुछ बहुलक भंगुर हैं।

टूटा हुआ काँच

इन्हें भी देखेंसंपादित करें