मुख्य मेनू खोलें

भारत की अंतःकालीन सरकार

अनंतिम सरकार-निर्वासन
चित्र:Mahendra Pratap and the German Mission.gif
जर्मन और तुर्की प्रतिनिधियों के साथ १९१५ में महेन्द्र प्रताप (बीच में)

भारत की अंतःकालीन सरकार (Provisional Government of India) भारतीय राष्ट्रवादियों द्वारा १ दिसम्बर १९१५ को काबुल में अस्थायी रूप से स्थापित एक सरकार थी। राष्ट्रपती राजा महेंद्र प्रताप थे , पंतप्रधान मौलाना बरकतउल्लाह , गृह मंत्री देवबंदी मौलाना उबैदुल्लाह सिंधी, युद्ध मंत्री देवबंदी मौलाना बशीर, परराष्ट्र मंत्री चंपकराम पिल्लई थे ।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें