परमार राजा भोज ने ११वीं शताब्दी में शासन किया। उनकी राजधानी धारानगरी (वर्तमान धार) थी। उनका राज्यकाल लगभग १०१० ई॰ से १०५५ ई॰ तक माना जाता है किन्तु कुछ इतिहासकारों का मत है कि उनने १०१० के पूर्व ही सिंहासन प्राप्त कर लिया था। उनका राज्य मालवा में केन्द्रित था जिसको विस्तारित करने के अनेक प्रयत्न किए जिसमें कुछ में सफलता भी मिली। उनका राज्य कोंकण के उत्तरी भाग तक जा पहुंचा था, किन्तु यह अधिक समय तक टिक न सका।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें