मुख्य मेनू खोलें

मञ्जुश्रीमूलकल्प, क्रियातन्त्र सम्बन्धी एक ग्रन्थ है। यह मञ्जुश्री बोधिसत्त्व से सम्बन्धित है तथा इसमें हिंसक, यौन तान्त्रिक कर्मकाण्ड वर्णित हैं।