मुख्य मेनू खोलें

मत्स्य के निम्नलिखित अर्थ हैं:

मत्स्य नगर शूरसेन राज्य के वंश के राजवंशों का ही एक हिस्सा था जो करौली सवाई माधोपुर क्षेत्र तक फैला हुआ था पास में ही बिराटनगर जो कि अलवर और जयपुर के क्षेत्र में फैला हुआ था उत्तरी जयपुर से लेकर के अलवर के क्षेत्र में विराट नगर मत्स्य नगर शूरसेन नगर मथुरा पुरी आदि क्षेत्र है महाभारत काल के समय के हैं