मधुमक्खी का छत्ता एक बन्द संरचना है जिसमें ऍपिस उपवंश की मधुमक्खी की कुछ जातियाँ रहती और अपने बच्चे पालती है। प्राकृतिक छत्ते प्राकृतिक रूप से पाये जाने वाली मधुमक्खी की बस्तियाँ हैं, जबकि पालतू मधुमक्खियाँ मानवनिर्मित छत्तों में रहती हैं, जो अक्सर ऍपियरी हुआ करती है। ऐसी मानवनिर्मित संरचनाएँ भी प्रायः मधुमक्खी का छत्ता कहलाती हैं। ऍपिस मधुमक्खियों की कई जातियाँ छत्तों में रहती हैं, लेकिन केवल पश्चिमी मधुमक्खियाँ (ऍपिस मेलीफ़ेरा) और पूर्वी मधुमक्खियाँ (ऍपिस केराना) मनष्यों द्वारा पाली जाती हैं। मधुमक्खी के प्राकृतिक छत्ता की तुलना एक पक्षी के घोंसले से की जा सकती है जिसका उद्देश्य उसके निवासी को सुरक्षा प्रदान करना होता है।

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें