मर्कोसुर या मर्कोसुल (स्पेनी: Mercado Común del Sur, पुर्तगाली: Mercado Comum do Sul, गुआरानी: Ñemby Ñemuha, हिन्दी: दक्षिणी साझा बाजार) दक्षिण अमेरिकी देशों का एक क्षेत्रीय व्यापार संगठन है जिसके सदस्य अर्जेंटीना, ब्राजील, उरुग्वे और पैराग्वे हैं। संगठन की स्थापना सन १९९१ में एसन्शियन संधि के द्वारा की गयी थी, जिसे १९९४ में संशोधित कर ऑरो प्रेटो संधि का रूप दिया गया। इस संगठन का उद्देश्य सदस्य देशों के बीच मुक्त व्यापार के अतिरिक्त लोगों, माल और मुद्रा का मुक्त प्रवाह है। संगठन का मुख्यालय उरुग्वे की राजधानी मोंटेवीडियो में है और इसकी आधिकरिक भाषायें पुर्तगाली, स्पेनी और गुआरानी हैं।

मर्कोसुर सदस्य देश
पुर्तगाली और स्पेनी प्रतीक
मर्कोसुर 2005

वर्तमान में चिली, बोलीविया, कोलम्बिया, ईक्वाडोर और पेरू को सहयोगी सदस्य का दर्जा दिया गया है। वेनेजुएला ने सदस्यता समझौते पर १७ जून, २००६ को हस्ताक्षर किए, पर एक पूर्ण सदस्य बनने से पहले वेनेजुएला को पैराग्वे और ब्राजील की संसदों द्वारा इसका अनुमोदन चाहिए। दिसम्बर २००४ के राष्ट्रपति शिखर सम्मेलन में मर्कोसुर संसद की स्थापना पर सहमति हुई थी। इस संसद मे प्रत्येक सदस्य देश के १८ प्रतिनिधि वांछित हैं।[1]

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें