मलय द्वीपसमूह (Malay Archipelago) दक्षिणपूर्वी एशिया की मुख्यभूमि और ऑस्ट्रेलिया के बीच में विस्तृत एक द्वीपसमूह है। हिन्द महासागर से लेकर प्रशांत महासागर तक फैले हुए इस द्वीपसमूह में २५,००० द्वीप हैं। क्षेत्रफल के आधार पर यह दुनिया का सबसे बड़ा और द्वीप-संख्या के आधार पर विश्व का चौथा सबसे बड़ा द्वीपसमूह है। ब्रुनेई, पूर्वी मलेशिया, इण्डोनेशिया, पूर्वी तिमोर, सिंगापुर और फ़िलिपीन्स इसमें आते हैं। पापुआ न्यू गिनी इसमें सम्मिलित नहीं किया जाता हालांकि कुछ परिभाषाओं में नया गिनी द्वीप का पश्चिमी भाग (जो इण्डोनेशिया का हिस्सा है) मलय द्वीपसमूह में गिना जाता है।[2]

मलय द्वीपसमूह
Malay Archipelago
भूगोल
अवस्थिति दक्षिणपूर्वी एशिया, ओशिआनिया
क्षेत्रफल 20,00,000
प्रशासन

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Moores, Eldridge M.; Fairbridge, Rhodes Whitmore (1997). Encyclopedia of European and Asian regional geology. Springer. पृ॰ 377. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-412-74040-0. अभिगमन तिथि 30 November 2009.
  2. Wallace, Alfred Russel (1869). The Malay Archipelago. London: Macmillan and Co. पृ॰ 16. Chapter II. Singapore. ...The native Malays are usually fishermen and boatmen... सन्दर्भ त्रुटि: <ref> अमान्य टैग है; "Wallace1869" नाम कई बार विभिन्न सामग्रियों में परिभाषित हो चुका है
  3. Department of Economic and Social Affairs Population Division (2006). "World Population Prospects, Table A.2" (PDF). 2006 revision. United Nations: 37–42. मूल से 10 जुलाई 2018 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 2007-06-30. |author= में 42 स्थान पर line feed character (मदद); Cite journal requires |journal= (मदद)