मालवीय राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जयपुर

मालवीय राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, जयपुर, राजस्थान की स्थापना १९६३ में की गई थी और २६ जून २००२ को इसे मालवीय राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान का दर्जा दिया गया।

मालवीय राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जयपुर
Malaviya National Institute of Technology Jaipur
मालवीय राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जयपुर
Mnit logo.png

आदर्श वाक्य:योगः कर्मसु कौशलम्
स्थापित1963
प्रकार:सार्वजनिक इंजीनियरी महाविद्यालय
निदेशक:Professor Udaykumar R Yaragatti
शिक्षक:700
कर्मचारी संख्या:500
स्नातक:3,372
स्नातकोत्तर:500
डॉक्ट्रेट:500
अवस्थिति:जयपुर, राजस्थान, भारत
(26°51′44″N 75°48′56″E / 26.862228°N 75.815642°E / 26.862228; 75.815642निर्देशांक: 26°51′44″N 75°48′56″E / 26.862228°N 75.815642°E / 26.862228; 75.815642)
परिसर:Urban, 329 एकड़ (1.33 कि॰मी2)
Acronym:MNIT
मुख्य :Red and White         
सम्बन्धन:मानव संसाधन मंत्रालय, भारत सरकार
जालपृष्ठ:http://www.mnit.ac.in

यह संस्थान नौ अवर स्नातक पाठयक्रम तथा १० पूर्णकालिक एवं पांच अंशकालिक स्नातकोत्तर पाठयक्रमों का संचालन करता है। यह संस्थान सिविल इंजीनियरी, रसायन इंजीनियरी, विद्युत इंजीनियरी, इलैक्ट्रॉनिकी तथा संचार इंजीनियरी, सूचना प्रौद्योगिकी, अभियांत्रिकी इंजीनियरी तथा धातुकर्मीय इंजीनियरी में चार वर्षीय अवर स्नातक पाठयक्रमों और एक पांच वर्षीय बी. आर्क. पाठयक्रम का संचालन करता है। यह संस्थान १० विषयों में तीन सेमेस्टर पूर्णकालिक और पांच सेमेस्टर अंशकालिक (स्व-वित्तपोषित) स्नातकोत्तर डिग्री कार्यक्रमों का संचालन करता है। यह संस्थान इलैक्ट्रानिकी एवं कम्प्यूटर इंजीनियरी में जनशक्ति विकास हेतु विश्‍व बैंक, स्विस विकास कॉर्पोरेशन तथा भारत सरकार द्वारा वित्तपोषित इम्पैक्ट नामक परियोजना को लागू कर रहा है।[1]

मालवीय राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के प्रांगण तथा व्याख्यान कक्ष कम्लेक्स का उत्तर पूर्व से लिया गया फोटो

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "मालवीय राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, जयपुर". संस्थान का आधिकारिक जालस्थल. अभिगमन तिथि ४ मई २००९. |access-date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)

इतिहाससंपादित करें

यह संस्थान १९६३ में मालवीय रीजनल इंजीनियरिंग कॉलेज के नाम से स्थापित हुआ था|इस संस्थान का नाम मदन मोहन मालवीय के नाम पे रखा गया था|

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें