नासर और नकीब

१९५२ की मिस्र की क्रांति (अरबी: ثورة 23 يوليو 1952‎), २३ जुलाई १९५२ को मिस्र की थलसेना के कुछ अधिकारियों के समूह द्वारा की गयी थी जिसका नेतृत्व मुहम्मद नकीब और गमाल अब्देल नासर ने किया। आरम्भ में इस क्रान्ति का उद्देश्य वहाँ के राजा फारुख को अपदस्थ करना था। किन्तु इस क्रान्ति के परिणामस्वरूप अन्ततः मिस्र और सूडान में संवैधानिक राजतंत्र एवं कुलीनतंत्र की समाप्ति हुई। इसके बाद मिस्र एक रिपब्लिक बना तथा इससे ब्रिटेन का कब्जा समाप्त हुआ। सूडान भी स्वतंत्र हो गया।